Posts tagged ‘Svayam se Mulakat’

सितम्बर 9, 2011

स्वयं से मुलाक़ात

माना तुम
उसका हिस्सा हो
लेकिन भीड़ के पास
देने के लिए
शोर के सिवा कुछ नहीं।

तुम्हे अगर गीत की है तलाश
अपने भीतर की नीरवता से गुजरो
खुद से लय मिला सके तो अच्छा
अन्यथा कोई बात नहीं
यूँ भी किसे नसीब होती है
स्वयं से मुलाक़ात!

(रफत आलम)

%d bloggers like this: