Posts tagged ‘sookha’

मई 27, 2016

जल-हल

जल में हल
हल का जल,
जल ही जीवन
जीवन का हल,
हल का फल
फल का रस,
रस ही सार
सार ही धार,
धार का धौरा
धौरा में जल,
जल की माया
माया में काया,
काया बिन न कुछ पाया
पाया है तो आगे चल,
चल तू , जन गण तक
तक ना, थक ना,
ना थक चलता जा
जा पायेगा जल का हल,
हल का जल
जल सबका जल,
जल ही जीवन
जीवन का हल |
जल की धारा
धारा का जल,
जल है प्यारा
प्यारा है सहारा,
सहारा टूटा
टूटा जीवन,
जीवन खाली
खाली खेत,
खेत में उडती
उडती सूखी रेत,
रेत बिन पानी
पानी बिन सूना,
सूना जीवन
जीवन जिजिविषा,
जिजिविषा जिलाए
जिलाए किसान,

किसान का अन्न
अन्न की रोटी,
रोटी का जल
जल सबका जल,
जल ही जीवन
जीवन का हल

(रमेश चंद शर्मा  – गाँधी शांति प्रतिष्ठान) – स्वराज अभियान के जल-हल आंदोलन के संदर्भ में रची कविता!

मई 2, 2016

पानी पानी …(रघुवीर सहाय)

Raghuvir Sahayपानी पानी
बच्चा बच्चा
हिन्दुस्तानी
मांग रहा है
पानी पानी
जिसको पानी नहीं मिला है
वह धरती आजाद नहीं
उस पर हिन्दुस्तानी बसते हैं
पर वह आबाद नहीं
पानी पानी बच्चा बच्चा
मांग रहा है
हिन्दुस्तानी
जो पानी के मालिक हैं
भारत पर उनका कब्जा है
जहां न दें पानी वहां सूखा
जहां दें वहां सब्जा है
अपना पानी
मांग रहा है
हिन्दुस्तानी
बरसों पानी को तरसाया
जीवन से लाचार किया
बरसों जनता की गंगा पर
तुमने अत्याचार किया
हमको अक्षर नहीं दिया है
हमको पानी नहीं दिया
पानी नहीं दिया तो समझो
हमको बानी नहीं दिया
अपना पानी
अपनी बानी हिन्दुस्तानी
बच्चा बच्चा मांग रहा है
धरती के अंदर का पानी
हमको बाहर लाने दो
अपनी धरती अपना पानी
अपनी रोटी खाने दो
पानी पानी
पानी पानी
बच्चा बच्चा
मांग रहा है
अपनी बानी
पानी पानी

पानी पानी
पानी पानी
[‘हँसो हँसो जल्दी हँसो’ (1978)]

जुलाई 2, 2010

मेरे गाँव का मुकददर- (कृष्ण बिहारी)

हवाओं ने उड़ा दिये छ्प्पर
बौछारों ने गिरा दी भीतें
और उजड़ गये मेरे गाँव के घर।

ऊपर बादलों से भरा है मौसम
नीचे पानी ही पानी
सब कुछ एक बार फिर गया बिखर।

पिछली बार पड़ा था सूखा
चिटक गयी थी जमीन
मर गये थे मेरे गाँव के जानवर।

अबकी आई है बेतहाशा बाढ़
पानी उतरेगा नदी के पेट में महीनों बाद
तब तक किधर रहेंगे बेघर।

सरकारी पूड़ियों के पैकेट
जब गिराये जायेंगे
हेलीकॉप्टर से
लोग उन्हे खायेंगे
अपनों से लूट कर।

सुनता आ रहा हूँ जन्म से
देखता आया हूँ होश सम्भालने के बाद
यही है मेरे गाँव का मुकददर।

{कृष्ण बिहारी}

%d bloggers like this: