Posts tagged ‘Human development’

मई 29, 2011

मनुष्य का विकास

मैं सबसे पहले घड़ी था
फिर मछली बना
उसके बाद पेड़
पेड़ के बाद हुआ मनुष्य।

मैं मनुष्य बनकर
घड़ी का कान उमेठने लगा हूँ
मछली खाने लगा हूँ
पेड़ काटकर
घर के लिये दरवाजा बनाने लगा हूँ
चेहरा छिपाने लगा हूँ।

(विमल कुमार)

Advertisements
%d bloggers like this: