Posts tagged ‘Development’

जनवरी 26, 2015

भारत के विकास का आँकड़ा : 1950 बनाम 2015

1950vs2015

Advertisements
फ़रवरी 4, 2011

प्रलय का दिन दूर नहीं…(रफत आलम)

शाम ढलने से पहले ही
सूरज का रंग लाल होने लगता है
गहराने लगती है
आकाश की सियाही
धुंआं उड़ाते
दुपहियों -कारों- कारखानों से
दिन में ही रात उतर आती है।

अनगिनत पेड़ों की बेआवाज़ कातिल
काले अजगर सी सड़कें
हरियाली निगल रही हैं
खेतों की क्यारियों पर
कंक्रीट जंगल उग गए हैं।

बेतरतीब विकास के कैंसर ने
मासूम फिजा को लील लिया है
ये शहर है या नरक बस रहा है?

मेला आकाश-
नंगे पहाड़-
बंजर धरती-
हवा की घुटती सांस-
जता रहे हैं
चेता रहे हैं
याद दिला रहे हैं
प्रक्रति बहुत सहनशील है
पर बिगड़ने के बाद
एक पल में
समुद्र को मरू बना देती है।

ओ अक्ल के अंधे मानव
डायनासोर  के कंकाल
या गए दिनों की सभ्यताओं के अवशेष
तुझे दीखते नहीं क्या?

याद रख
आज किये की सजा
तेरे कल को ज़रूर भुगतनी पड़ेगी
शायद नवीन प्रलय का दिन
अधिक दूर नहीं

 

(रफत आलम)

[चित्र : साभार नासा]

%d bloggers like this: