“आप” डायरी (3 अप्रैल 2014) : मेनिफेस्टो, जनसभाएं, ईवीएम में गडबडी

AAP manifestoआम आदमी पार्टी (आप) ने 3 अप्रैल 2014 को लोकसभा चुनाव के लिए अपना घोषणापत्र (मेनिफेस्टो) जारी कर दिया [आप” का मेनिफेस्टो यहाँ पढ़ें| दिल्ली विधानसभा चुनाव के समय “आप” ने 70 विधानसभा क्षेत्रों के लिए अलग-अलग घोषणापत्र जारी किये थे जिनके बहुत सारे अंश बाद में भाजपा ने भी कॉपी किये| भारत में केन्द्र की राजनीति में प्रमुख विपक्षी दल भाजपा ने अभी तक अपना चुनावी घोषणापत्र जारी नहीं किया है और ऐसा बताया गया है कि भाजपा 7 अप्रैल को अपना घोस्नापत्र जारी करेगी| गौरतलब है कि उसी दिन लोकसभा चुनाव का पहला चरण शुरू है और देश के कई हिस्सों में मतदान होगा| इसका अर्थ यह भी कि इन् क्षेत्रों से भाजपा को कोई सरोकार नहीं है वरना पहले ही अपना घोषणापत्र जारी कर देती जिससे कि उस दिन मतदान करने वाले भारतीय भी उसका घोषणापत्र देख लेते और उस पर विचार कर लेते|

अब अगर भाजपा के घोषणापत्र में “आप” के घोषणापत्र से मिलती जुलती बातें मिलती हैं या उनके बिंदुओं की खास काट मिलती है तो यह निश्चित हो जाएगा कि भाजपा केवल “आप” के घोषणापत्र का इंतजार कर रही थी| मुख्य विपक्षी दल होने के नाते और अपना प्रधानमंत्री पद के उम्मीदवार की घोषणा महीनों पहले करने वाले दल को मेनिफेस्टो जारी करने की फुर्सत नहीं मिली यह बात पचती नहीं| या तो भाजपा मेनिफेस्टो को महत्वपूर्ण समझती ही नहीं या उसका भी यही ख्याल है कि मेनिफेस्टो को पढता कौन है? कांग्रेस और भी बड़ी गुनाहगार है इस मामले में क्योंकि आजादी के बाद वही सबसे ज्यादा सत्ता में रही है और उसने भी अपना मेनिफेस्टो कुछ ही दिन पहले जारी किया है|

EVMअसम में ईवीएम की जांच के दौरान पाया गया कि किसी भी पार्टी के उम्मीदवार के लिए मत डालने के लिए बटन दबाया गया पर मत जाकर दर्ज हुआ सिर्फ भाजपा के खाते में! कुछ अरसा पहले एक खबर छपी थी जिसे शायद दबा दिया गया कि ईवीएम के साथ छेड़छाड़ संभव हो सकती है और जिस तरह की तकनीकी खराबी असम वाले मामले में देखी गई है ऐसी ही संभावना का जिक्र उस खबर में था|

क्या लोकतंत्र के पीने के पानी में मिलावट हो गयी है? सीवर का पाइप अपने आप फटा है या इसे फाड़ने वाले हर सरकारी तंत्र में घुस चुके हैं? चुनाव आयोग यदि सोया रह गया तो लोकतंत्र के खात्मे के बाद उसके कर्मचारियों को को हो सकता है नगर पालिका में स्थान्तरित कर दिया जाए|

बीते दिन 2 अप्रैल को आज-तक चैनल ने स्टिंग करके खुलासा किया था कि बहुत बड़ी संख्या में नकली मतदाता पत्र बनाए गये हैं और विशेषज्ञों का कहना था कि 40% तक नकली मत पत्र बने हो सकते हैं| शरद पवार ने तो यह कहकर अपने कथन से पल्ला झाड लिया कि उन्होंने मजाक में कहा था कि वोट देने के बाद उंगली पर लगी स्याही मिटा कर दूसरी जगह जाकर वोट दे आना, पर स्टिंग में साफ़ तौर पर दिखाया गया कि कैसे दिल्ली विधानसभा चुनाव के दौरान स्याही का दाग मिटाने वाला ५-५ किलो कैमिकल एक सप्लायर ने कांग्रेस और भाजपा दोनों को दिया| क्या दिल्ली विधानसभा के दौरान ट्रक भर कर कुछ बूथों पर शाम पांच बजे के आसपास पहुंचे मतदाताओं और इस स्टिंग के बीच कोई संबंध है? ऐसा कहा गया है कि जहां भी देर रात तक वोटिंग हुयी वहीं से “आप” के कुछ उम्मीदवार दो हजार से भी कम मतों से हारे|AAP_Delhi2

“आप” को घेर कर खत्म कर देने की ऐसी साजिशों के बीच “आप” का चुनाव प्रचार बदस्तूर जारी है और अरविंद केजरीवाल खुद दिल्ली में डेरा डाले हुए हैं पिछले दो दिन से और वे सातों लोकसभा क्षेत्रों में रोड शो और जनसभाएं करेंगे| अपेक्षित रूप से जहां भी वे जा रहे हैं अथाह भीड़ उनके साथ चलने के लिए इकट्ठी हो जाती है|

त्रिलोकपुरी में अरविंद केजरीवाल ने राजमोहन गांधी के लिए जनसभा की|

भारत के हर उस क्षेत्र जहां से “आप” के उम्मीदवार खड़े हैं जनता का बड़ा तबका उनसे जुडता जा रहा हैं|

इंदौर में वहाँ के प्रत्याशी अनिल त्रिवेदी के रोड शो का नजारा कम दिलचस्प नहीं|

AAP_Indoreइंदौर मेंअरविंद केजरीवाल ने गुजरात दौरे के बाद नरेंद्र मोदी से 17 सवाल पूछे थे| गुजरात सरकार ने कई दिन बाद 16 सवालों के जवाब दिए| अरविंद केजरीवाल के सवालों के बाद गुजरात सरकार की वेबसाईट से तथ्य एबम आंकड़े हटा दिए गये और हवाला दिया गया चुनाव की वजह से हटाये गएँ हैं|

AK tweet

अरविंद केजरीवाल और “आप” को पानी पी पे कोस रहे भाजपाइयों को यह बात हजम न हो पाए कि बस कुछ ही बरस पहले नरेंद्र मोदी ट्विट के जरिये अरविंद केजरीवाल के भ्रष्टाचार की मुहीम को समर्थन देने की अपील कर रहे थे |

Modi@AK

4 अप्रैल को ही ABP चैनल पर अभिनेता आमिर खान ने ऐसे उमीदवारों की बात की जिन पर अपराध के गंभीर आरोप हैं| और दलों ने तो साँस नहीं लिया सुधार के नाम पर “आप” के मनीष सिसोदिया ने कार्यक्रम में ही घोषणा कर दी कि “आप” दो दागी उम्मीदवारों के टिकट वापिस ले रही है और बाकी 5-6 के ऊपर जांच के बाद यथोचित कार्यवाही होगी|

http://www.dailymotion.com/video/x1lmcbt_asar-with-aamir-khan-3rd-april-2014-video-watch-online-pt3_people?start=2

 

भाजपा केवल टीवी कार्यक्रम में ही आएं बाएं नहीं गाने लगी दागी उम्मीदवारों के मामले पर, बल्कि कुछ अरसा पहले इसके एक पूर्व अध्यक्ष को ऑन-रिकार्ड कहते पाया गया था कि “अगर भाजपा ईमानदार उम्मीदवारों को टिकट दे दे तो एक भी सीट न मिले”| नरेंद्र मोदी ने जिस तरह से भ्रष्टाचारियों को भाजपा के अंदर से चुन कर और बाहर दूसरे दलों से आमंत्रित करके लोकसभा के टिकट बांटे हैं उससे स्पष्ट है वे किस तरह का भारत चाहते हैं और किस तरह की राजनीति उनके नियंत्रण में चलेगी|

Advertisements

एक उत्तर दें

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / बदले )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / बदले )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / बदले )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / बदले )

Connecting to %s

%d bloggers like this: