Archive for जनवरी 18th, 2014

जनवरी 18, 2014

ज्ञान

बच्चों की दुनिया की सच्चाई!

अब जाकर है मैंने पाई,

देखे सारे खेल-खिलौने

वयस्कों के ओढ़ने-बिछौने

आकार-प्रकार और रूप बदलकर

खेलते रहते हम जीवन भर!

बस,

करते रहते यह व्यवहार

निपट भूलकर वह सब सीख

जो बरजते आए बच्चों पर

वही करें लागू अपने पर

तो जीवन हो जाए मधुरकर!

Yugalsign1

Advertisements
%d bloggers like this: