Archive for नवम्बर 4th, 2013

नवम्बर 4, 2013

मन या तन?

shashisimi-001
तन या मन?
केवल तन
या केवल मन
देखा पहले किसको?
तन को या मन को?
बिना तन के मन था क्या?
बिना मन के तन था क्या?
मन महसूस किया पहले मन ने
या तन को सहलाया नज़रों ने पहले?
तन से जो केवल किया
वो प्यार की परिधि में आया क्या?
मन से जो चाहा वो तन द्वारा बयां
करने से बच पाया क्या??
कितने प्रश्न…कितने उत्तर
कितने द्वन्द….कितनी बेचैनी…
प्रेम शांत होता है…नीले समुद्र की तरह
क्यूँ झंझावातों को न्यौता दूँ
क्यूँ इस झगडे का पञ्च बनूँ
इसीलिए लो मैं तुम पर
न्योछावर करता हूँ
अपना मन भी अपना तन भी…

(रजनीश)

टैग: , , , , , , ,
%d bloggers like this: